Features

"मिशन एजुकेशन: लर्न वेल टू अर्न" , जय कृष्णा लाल मेमोरियल शिक्षा समिति द्वारा संचालित शिक्षा अभियान है जिसका मूल उद्देश्य तकनीकी एवं अन्य व्यावसायिक कोर्सेज में पढ़ रहे छात्र/ छात्राओं को अच्छा प्रशिक्षण दिलाकर अच्छी कंपनियों में अच्छी नौकरी एवं अच्छा पैकेज दिलवाना है। यह समिति दसवीं / बारहवीं के छात्र/छात्राओं को इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक, MBA , MCA , BAMS , BHMS , नर्सिंग , B.Sc एग्रीकल्चर जैसे रोजगारन्मुखी कोर्सेज में न्यूनतम फीस पर प्रवेश दिलाती है जिससे की छात्र/छात्राएं एडमिशन के दलालों एवं महाविद्यालयों के अनुचित मांगों से बच सकें  ।

समिति द्वारा प्रवेशित छात्र/छत्राओं को पूरे कोर्स के दौरान उनके कोर्स के अनुसार आद्योगिक प्रशिक्षण , तकनीकी प्रशिक्षण , व्यक्तित्व विकास का प्रशिक्षण दिया जाता है । प्रवेश के समय ही यह समिति छात्र/ छात्राओं को १००/- रुपये के नॉन-ज्यूडिसियल स्टाम्प पेपर पर लिखित में नौकरी की गारंटी देता है । समिति द्वारा नौकरी न दिलाये जाने की स्थिति में छात्र/ छात्राओं को महाविद्यालय में पूरे कोर्स के दौरान जमा की गयी कॉलेज फीस का ५०% वापस दे दिया जायेगा । इस आश्वाशन पत्र पर छात्र/ छात्राओं के अलावा उनके माता/पिता , समिति प्रमुख एवं दो गवाहों के हस्ताक्षर लिए जायेंगे तथा इस पत्र की एक प्रति छात्र/ छात्राओं को दे दी जाएगी ।पूरे कोर्स के दौरान महाविद्यालय तथा अध्धयन से जुडी किसी भी समस्या का समाधान समिति द्वारा किया जायेगा ।

बढ़ती बेरोजगारी के कारण छात्र/छात्राओं पर माता/पिता एवं समाज का एक अनावश्यक दबाब होता है जिससे परीक्षा के समय  वे बहुत चिंतित होने लगते  हैं एवं  डिप्रेशन में चले जाते हैं  और कभी कभी आत्महत्या जैसा कदम उठाने की भी कोशिश करते हैं। समिति का उद्देश्य ऐसे बच्चों की काउन्सलिंग करना भी है जिसके लिए समिति समय समय पर बच्चों के लिए एक्सपर्ट द्वारा  कैरियर काउन्सलिंग , पर्सनल काउन्सलिंग, लाइफ स्किल काउन्सलिंग और स्ट्रेस मैनेजमेंट पर निरंतर सेमिनार का आयोजन करती है और उन्हें उनके उज्जवल भविष्य की तरफ अग्रसर होने के लिए प्रेरित करती है ।